होम / पोस्ट

होटल व्यवसायियों ने पर्यटकों की आवाजाही के लिए उत्तराखंड में पर्यटन शुरू करने की मांग की

देहरादून : मसूरी में होटल और रेस्टोरेंट व्यावसायिक पर्यटकों की आवाजाही न होने के कारण खासे परेशान है सरकार द्वारा जारी की गई एडवाइजरी के तहत प्रतिष्ठानों को संचालित करने में खासी दिक्कत आ रही है।

जिसको लेकर हाल में ही मसूरी विधायक के नेतृत्व में मसूरी होटल एसोसिएशन द्वारा प्रदेश के मुख्य सचिव से मुलाकात कर सरकार द्वारा जारी एडवाइजरी में संशोधन कर सरलीकरण करने की मांग की गई थी जिससे की प्रदेष में पर्यटन व्यवसाय को दोबारा षुरू किया जा सके।

मसूरी होटल एसोसिएशन सचिव संजय अग्रवाल ने बताया कि उत्तराखंड पर्यटन व्यवसाय पर आधारित है ऐसे में कोरोना काल के कारण पर्यटन व्यवसाय बूरी तरह प्रभावित हो गया है वही उसको दोबारा पटरी में लाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अनलाॅक के तहत होटल और अन्य प्रतिष्ठान को खोलने के लिए कई एडवाइजरी जारी की गई है परंतु उसमें काफी जटिलताएं है जिसके तहत वह अपनी प्रतिष्ठानों को चालू नहीं कर पा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि बाहर से आने वाले पर्यटकों को 7 दिनों तक इंस्टिट्यूशन क्वारेंटाइन करने की बात की जा रही है जिसको लेकर पर्यटक तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि मसूरी में पर्यटक 2 या 3 दिन के लिए घूमने के लिए आते हैं ऐसे में क्वारेंटाइन को लेकर कई प्रश्न उठ रहे हैं।

उन्होंने सरकार से मांग की है कि कुछ ऐसे नियम बनाकर पर्यटकों को उत्तराखंड में आने की अनुमति दी जाए जिससे कि उत्तराखंड का पर्यटन व्यवसाय शुरू हो सके और लोगों की आर्थिक स्थिति मजबूत किया जा सके। उन्होंने बताया कि वर्तमान में कोरोना टेस्ट है जिसमें कुछ ही मिनट में कोरोना की रिपोर्ट आ जाती है ऐसे में उस टेस्ट का पैसा प्र्यटक से लेके उनको नो कोरोना का प्रमाण पत्र देकर उनको प्रदेष के पर्यटक स्थलों पर जाने की अनुमति दी जाये जिससे प्रदेष में पर्यटकों की आवाजाही बढ़ सके और लोगों को काम मिल सके।

4405

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें