होम / पोस्ट

नैनीताल में विकसित किये जाएंगे एस्ट्रो विलेज, इन दो गांवों से होगी शुरुआत, जानिए

नैनीताल : नैनीताल में प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेने के लिए पहुंचने वाले पर्यटक अब ब्रह्मांड की कई बातों को जान पाएंगे। इसके लिए यहां के गांव में पर्वतीय शैली के भवन बनाए जाएंगे और ग्रामीणों को दूरबीन उपलब्ध कराई जाएंगी, जिनसे ग्रामीण यहां आने वाले सैलानियों को खुले, साफ, धूल एवं रोशनियों के प्रदूषण मुक्त आसमान में नजर आने वाले सितारों का दीदार कराएंगे।
जिला प्रशासन की पहल पर पर्यटन विभाग जिले में एस्ट्रो टूरिच्म विकसित कर रहा है। इसके लिए आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान के निकट स्थित ताकुला और देवस्थल को लिए चुना गया है। इस कार्य को लेकर पर्यटन विभाग ने गांवों का निरीक्षण कर प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन के लिए स्टीमेट बनाना शुरू कर दिया है। जल्द इन दोनों गांवों में अत्याधुनिक दूरबीन स्थापित करने के साथ ही अन्य सुविधाएं विकसित की जाएंगी।
एस्ट्रो विलेज के रूप में चिह्नित किए गए दोनों गांवों में पौड़ी में बनाए गए बासा की तर्ज पर पहाड़ी शैली में होमस्टे भी बनाए जाएंगे। डीएम धीराज गब्र्याल ने बताया कि एक होमस्टे तैयार होने में करीब 60 लाख की लागत आएगी। ये पूरी तरह राज्य की पारंपरिक भवन निर्माण कला पर आधारित होंगे। दोनों भवनों में अल्मोड़ा के पाथरो और लकड़ी का इस्तेमाल किया जाएगा। इस प्रयोग से प्रदेश की वास्तुकला को भी संरक्षण मिलेगा।

5331

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें