होम / पोस्ट

चमोली आपदा : बरामद हुआ एक और शव, अब तक मिले 74 शव, 130 लोग अब भी लापता

चमोली : गत 7 फरवरी को चमोली में आई आपदा में लापता लोगों की खोज अभी भी जारी है। आपदा के 41 दिन बाद तपोवन सुरंग से एक और शव बरामद हुआ है। शव बीते बुधवार की रात को खुदाई के दौरान बरामद हुआ। अबतक कुल 74 शव बरामद हो चुके हैं। जबकि 130 लोग अभी भी लापता हैं। शव की पहचान गुरूवार को अरविन्द सिंह उम्र 25 पुत्र दवेन्द्र सिंह निवासी ग्राम किमाणा जोशीमठ के रूप में हुई है।
चमोली में अब तक लाशों के मिलने का सिलसिला जारी है। अब तो सभी लोग उम्मीद खो बैठे हैं। पल भर में आपदा ने सब कुछ तबाह कर दिया। बता दें कि बुधवार को भी एनटीपीसी को बैराज साइट से एक मानव अंग बरामद हुआ था। अब तक 32 मानव अंग बरामद हुए हैं। बैराज साइट पर एनडीआरएफ सर्च अभियान चला रही है। कुछ दिन पहले भी रुद्रप्रयाग साइट से एक शव बरामद किया गया था।
एनटीपीसी के महाप्रबंधक आरपी अहिरवान ने बताया कि सुरंग के अंदर से मलबा हटाने का काम अभी भी अभी भी युद्ध स्तर पर जारी है। इसके अलावा बैराज सासे भी लापता लोगों की तलाश की जा रही है। ऋषिगंगा की आपदा को 41 दिन हो चुके हैं, लेकिन लापता आधे से अधिक लोगों का कुछ पता नहीं चल पाया है। 
तपोवन सुरंग के टी प्वाइंट पर तकरीबन 194 मीटर से ज्यादा दूरी तक मलबे को हटा लिया गया है और यहां से लेकर मुख्य टनल तक पहुंचने के लिए कुल 245 मीटर और आगे जाना होगा। टनल के मुख्य द्वार से ही अंदर मलबे के काफी ढेर लगे हुए हैं ऐसे में मलबा हटाने के लिए भारी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा है। वहीं लापता लोगों को मृत घोषित करने की प्रक्रिया भी तेजी से चल रही है।

लापता लोगों को मृत घोषित करने की प्रक्रिया जारी
जिला मजिस्ट्रेट स्वाति भदौरिया ने बताया कि प्रशासन की गाइडलाइंस के अनुसार लापता लोगों की मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। शासन की गाइड लाइन के अनुसार लापता लोगों के मृत्यु प्रमाणपत्र जारी करने की प्रक्रिया को तीन श्रेणी में वर्गीकृत किया गया है।

4867

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें