होम / पोस्ट

निर्वाचन आयोग ने चुनावी रैलियों, रोड शो और पदयात्राओं पर रोक 22 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी है

देहरादून- निर्वाचन आयोग ने चुनावी रैलियों, रोड शो और पदयात्राओं पर रोक 22 जनवरी तक के लिए बढ़ा दी है। अलबत्ता बंद कमरे की बैठक को लेकर कुछ छूट प्रदान की है। गत आठ जनवरी को उत्तराखंड सहित पांच राज्यों के लिए विधानसभा चुनावों की घोषणा करने के साथ ही भारत निर्वाचन आयोग ने कोविड के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चुनाव प्रचार पर कई तरह से प्रतिबंध लगा दिए थे।

आयोग ने तब 16 जनवरी तक भौतिक रैलियों, पदयात्रा, वाहन रैली, रोड शो पर रोक लगाते हुए, चुनाव प्रचार मुख्यरूप से डिजिटल माध्यम तक सीमित कर दिया था। अब एक सप्ताह बाद हालात का नए सिरे से जायजा लेने के बाद आयोग में ज्यादातर प्रतिबंध 22 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिए हैं। यानि फिलहाल रैलियों, रोड शो, वाहन रैली, पदयात्रा पर रोक पहले की तरह जारी रहगी। हालांकि आयोग ने अब बंद कमरे की बैठक में अधिकतम 300 व्यक्ति या क्षमता के 50 प्रतिशत तक उपस्थिति की अनुमति प्रदान कर दी है। आयोग ने एक सप्ताह तक हालात का जायजा लेने के बाद नए सिरे से स्थितियों पर विचार करने की बात कही है। प्रदेश की मुख्य निर्वाचन अधिकारी सौजन्या ने बताया कि उक्त गाइडलाइन उत्तराखंड में भी सख्ती से लागू की जाएगी। उन्होंने सभी दलों से इसमें सहयोग करने की अपील की है।

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें