होम / पोस्ट

औषधि पौधों को रोजगार का जरिया बनाने के लिए हो काम – डीएम वंदना सिंह

अल्मोड़ा – डीएम वंदना सिंह की अध्यक्षता में इको टूरिज्म को विकसित करने, पर्वतीय वन क्षेत्रों में पाई जाने वाली जड़ी-बूटियों को रोजगार का जरिया बनाने आदि विषयों पर अधिकारियों के साथ बैठक हुई। डीएम ने कहा कि वन क्षेत्रों में पैदा होने वाली जड़ी-बूटियों और सुगंधित पादपों का डाटा तैयार कर प्रचार-प्रसार करें। उन्होंने वन औषधि पादपों के संरक्षण में स्थानीय लोगों को जोड़कर रोजगार के नए अवसर पैदा करने पर जोर दिया।

बृहस्पतिवार को विकास भवन में हुई बैठक में डीएम ने सिमतोला इको पार्क, सोनी बिनसर क्षेत्र, पांडव खोली, दूनागिरि क्षेत्र, मर्चुला और जागेश्वर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इन स्थानों पर पैराग्लाइडिंग, बर्ड वाॅचिंग आदि साहसिक गतिविधियों को बढ़ाने के निर्देश दिए। स्थानीय उत्पादों को पहचान दिलाने के लिए होटल और रिजॉर्ट मालिकों से बात कर इन स्थानों पर स्थानीय उत्पादों को बिक्री की के लिए उपलब्ध कराने को कहा ताकि लोगों को आर्थिक लाभ मिल सके। बैठक में सीडीओ अंशुल सिंह, प्रभारी डीएफओ हिमांशु बागरी, डीएफओ ध्रुव सिंह मर्तोलिया आदि मौजूद रहे। 

7136

0 comment

एक टिप्पणी छोड़ें